20 दिसम्बर 2023 का पंचांग और मुहूर्त

20 December 2023 का पंचांग और मुहूर्त, Hindi panchang 20 December 2023, Auspicious Time, Muhurats and Festivals.

हिन्दू पंचांग के अनुसार शुभ मुहूर्त और पंचांग : तारीख – दिसम्बर 20, 2023, दिन – बुधवार, हिंदी महीना – मार्गशीर्ष,  पक्ष –  शुक्ल है। जानिए हिंदी पंचांग के अनुसार December 20 का  शुभ-अशुभ समय, मुहूर्त और राहुकाल , आज का पर्व त्यौहार और शुभ योग शुभ कार्य करने  के लिए।

20 दिसम्बर 2023 पंचांग

आज का पंचांग में तिथि, पक्ष, हिंदी महीने का माह, नक्षत्र भी देखना जरुरी होता है। क्योंकि हर एक शुभ कार्य के लिए अलग अलग नक्षत्र होता है। इसलिए नक्षत्र का ध्यान रखना बहुत जरुरी है। सूर्योदय सूर्यास्त से आप उस तिथि के बारे में जानते है की सूर्य उदय उस तिथि को कब होगा  और सूर्यास्त का समय क्या है।

तिथि अष्टमी 11:14 AM तक उसके बाद नवमी पक्ष शुक्ल पक्ष
माह मार्गशीर्ष नक्षत्र उत्तर भाद्रपद 10:58 PM तक उसके बाद रेवती
सूर्योदय  06:38 AM सूर्यास्त  05:12 PM
चंद्रोदय  12:23 PM चन्द्रास्त  12:54 AMDec 21

20 दिसम्बर 2023 का शुभ मुहूर्त शुभ योग के अनुसार

अगर इस तिथि को कोई भी योग हो इसमें आप शुभ कार्य कर सकते हैं।  ये शुभ होता है। जैसे सर्वार्थसिद्धि, अमृतसिद्धि, गुरुपुष्यामृत और रविपुष्यामृत योग। जब किसी कार्य को करना हो और मुहूर्त उस समय नहीं हो तो इन विशेष योग या महूर्त में शुभ कार्य किया जाता है। जैसे  गृह प्रवेश, गृह निर्माण, किसी वस्तु की खरीद विक्री जैसे वाहन खरीदना, सोना चांदी, आप इस दिन शुभ कार्य कर सकते हैं।

अभिजीत मुहूर्त कोई नहीं है सर्वार्थ सिध्दि योग
कोई नहीं है
अमृत काल 
06:23 PM से 07:54 PM
रवि योग
10:58 PM से 06:39 AM, Dec 21

20 दिसम्बर 2023 का शुभ मुहूर्त और समय

हर एक तिथि में शुभ समय होता है। जब भी कोई शुभ कार्य करना हो तो आप शुभ समय में ही शुरू करें।  ये आपके लिए खुशियां लेकर आएगा और आपका कार्य शुभ होगा।

अभिजीत मुहूर्त कोई नहीं है
प्रातः सन्ध्या
05:18 AM से 06:38 AM
विजय मुहूर्त 01:41 PM से 02:23 PM सायाह्न सन्ध्या 05:12 PM से 06:33 PM
ब्रह्म मुहूर्त 04:51 AM से 05:45 AM गोधूलि मुहूर्त 05:02 PM से 05:26 PM
अमृत काल मुहूर्त 06:23 PM से 07:54 PM
निशिता मुहूर्त
11:29 PM से 12:23 AM, Dec 21

20 दिसम्बर 2023 का अशुभ मुहूर्त और समय

आप हमेशा राहु काल को छोड़कर ही कोई शुभ कार्य करें। राहु काल का ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है। और भी अशुभ समय होता है। जिसका वर्णन निचे है।

दुष्टमुहूर्त
                    11:34:14 से 12:16:29 तक
कालवेला / अर्द्धयाम
        07:20:43 से 08:02:58 तक
  कुलिक
                    11:34:14 से 12:16:29 तक
यमघण्ट
        08:45:14 से 09:27:29 तक
  कंटक               15:47:44 से 16:29:59 तक यमगण्ड     07:57:42 से 09:16:55 तक
राहुकाल               11:55:21 से 13:14:34 तक गुलिक काल
    10:36:08 से 11:55:21 तक
भद्रा                कोई नहीं है गण्ड मूल
    10:58 PM से 06:39 AM, Dec 21


आज का व्रत / पर्व त्यौहार  दिसम्बर 20,
2023 हिंदू पंचांग और कैलेंडर के अनुसार

मासिक दुर्गाष्टमी

Panchang 20 December 2023